राज्यों में थम गई बिजली की चोरी-India Today

राज्यों में थम गई बिजली की चोरी-

India Today: ट्रांसमिशन और डिस्ट्रीब्यूशन (टीएंडडी) से होने वाली हानि को India के बिजली सेक्टर में सुधार की राह में सबसे बड़े अड़चन के तौर पर देखा जाता रहा है। हालांकि जो आंकड़े अब सामने आ रहे हैं, उससे साफ है कि इस समस्या पर काबू पाने में सफलता मिलने लगी है।

तारीख पे तारीख नहीं अब होगा जल्दी न्याय-Amit Shah

Fastnewstoday विकसित देशों में तो बिजली सेक्टर में टीएंडडी से होने वाली हानि सिर्फ 4 से 6 प्रतिशत के बीच है।बहुत संभव है कि अगले कुछ वर्षों में भारत में भी यह स्तर हासिल हो जाए।टीएंडडी हानि में एक बड़ा हिस्सा बिजली चोरी का होता है। कई इलाकों में लोग बिजली का इस्तेमालकरते हैं लेकिन उसका बिल नहीं देते। इस पर लगाम लगाने के लिए सरकार की मदद से वितरण कंपनियां लगातार कोशिश कर रही हैं।

राज्यों में थम गई बिजली की चोरी-

एक दशक पहले तक टीएंडडी से होने वाली हानि 35 प्रतिशत तक होती थी, लेकिन ताजा आंकड़ों के मुताबिक यह घटकर 15 प्रतिशत हो गई है। पिछले दो वित्त वर्षों में यह 22 प्रतिशत से घटकर 15.41 प्रतिशत पर आ गया है। हालांकि वैश्विक स्तर के मुकाबले  अभी यह तकरीबन दोगुना है।

CM की गाड़ी का पहिया डीग जिले के पुछरी में एक नाले में फंसा

Fastnewstoday टीएंडडी हानि में कमी बताती हैं कि यह कोशिश सफल होने लगी है। RBI ने पिछले दिनों राज्यों की वित्तीय स्थिति पर सालाना रिपोर्ट प्रकाशित की थी, जिसमें राज्यों की बिजली सेक्टर की पूरी स्थिति का आकलन है।

राज्यों में थम गई बिजली की चोरी-

इसके साथ ही गुरुवार को उद्योग चैंबर फिक्की ने भी देश के बिजील सेक्टर में चल रहे बदलाव और इसकी चुनौतियों पर एक विस्तृत रिपोर्ट पेश की है जिसमें भी बिजली वितरण सेक्टर में होने वाली हानि का खासतौर पर जिक्र किया गया है।

Paytm ने Digital Marketing स्पेशलिस्ट के पोस्ट पर निकाली वैकेंसी …..Private Job

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »