रामनगरी अयोध्यावासियों ने एक-दूसरे के लिए स्नेह रस में पगी भाव- भंगिमाओं का प्रदर्शन किया-PM Modi

रामनगरी के प्रति समर्पण की गारंटी-PM Modi

India: विकसित भारत संकल्प यात्रा के तहत देश में केंद्र सरकार की योजनाओं के प्रचार वाहन बेशक गांव-गांव, शहर- शहर दौड़ रहे हों, लेकिन शनिवार को रामनगरी में रोड शो के दौरान जिस तरह प्रधानमंत्री Narendra Modi और अयोध्यावासियों ने एक-दूसरे के लिए स्नेह रस में पगी भाव- भंगिमाओं का प्रदर्शन किया, उससे अयोध्या के प्रति उनके समर्पण की गारंटी स्वतः स्पष्ट थी।

Amit Shah के Instagram एकाउंट पर फालोवर्स की संख्या एक करोड़ पार-India

Fastnewstoday पूस की ठंड के अतिरेक का अहसास कराते सर्द मौसम में सूर्य की अनुपस्थिति और आसमान से झड़तीं शीतजनित महीन बूंदों का सितम भी दोनों ओर से – हिलोरें मारती उमंग में बाधा नहीं बन सका। धर्म पथ से लता मंगेशकर चौक होते हुए राम पथ की ओर जैसे-जैसे Narendra Modi का काफिला बढ़ रहा था, सड़क के दोनों तरफ PM के अयोध्या अभिनंदन को खड़े’ नगरवासियों का उल्लास वेगवान होता जा रहा था।

रामनगरी के प्रति समर्पण की गारंटी-PM Modi
रामनगरी के प्रति समर्पण की गारंटी-PM Modi

दुनिया की सबसे अमीर महिला France की फ्रांसुआ बेटनकाट मायज

प्रधानमंत्री Narendra Modi की तस्वीर को अपने मोबाइल फोन के कैमरे में कैद करने के लिए सड़क किनारे लगीं बल्लियों के पार कमर तक लटके युवा हों या दुधमुंहे बच्चों को छाती से लिपटाए माताएं या फिर रंगारंग प्रस्तुतियां देते कलाकारों की टोलियां। सभी ने अपने-अपने अंदाज में अयोध्या के श्रृंगार के सूत्रधार का आभार जताया।

रामनगरी के प्रति समर्पण की गारंटी-PM Modi
रामनगरी के प्रति समर्पण की गारंटी-PM Modi

Fastnewstoday रोड शो के दौरान काली लैंड क्रूजर के फुटबोर्ड पर खड़े रहकर मोदी ने भी जनता के स्नेहिल अभिवादन का दूने उत्साह से प्रतिदान किया।

ये भी पढ़े……..

PM Modi भी आपके परिवार का है। आपको किसी और से पहचान की जरूरत नहीं-India

यात्रा में योजनाओं के लाभार्थियों से वर्चुअल संवाद में उन्होंने कहा, ‘विकसित भारत संकल्प यात्रा का ध्येय उस व्यक्ति तक पहुंचने का है, जो किसी कारणवश भारत सरकार की योजनाओं से वंचित रहा है। कभी-कभी तो लोगों को लगता है कि गांव में दो लोगों को मिल गया तो हो सकता है कि उनकी कोई पहचान होगी, उनको कोई रिश्वत देनी पड़ी होगी या उनका कोई रिश्तेदार होगा। • मैं ये गाड़ी लेकर गांव-गांव इसलिए निकला हूं कि मैं बताना चाहता हूं कि यहां कोई रिश्वतखोरी नहीं चलती, कोई भाई-भतीजावाद नहीं होता।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »