हथियारों (weapons)से हमला कर गंभीर रूप से कर दिया घायल

गांव सैफलाबाद में व्यक्ति को जबरी घर में ले जाकर हथियारों (weapons) से हमला कर गंभीर रूप से घायल कर दिया गया था. उसे इलाज के लिए सिविल अस्पताल कपूरथला में लाया गया जहां पर ड्यूटी डाक्टर ने प्राथमिक इलाज के बाद उसे गुरु नानक मिशन अस्पताल अमृतसर रैफर कर दिया जहां इलाज के दौरान 12 अप्रैल को उसकी मौत हो गई. पुलिस ने एक आरोपी कारज सिंह को गिरफ्तार भी कर लिया है जबकि 3 आरोपी अभी फरार हैं। थाना फत्तूढींगा पुलिस ने मृतक के बेटे के बयानों के आधार पर 4 आरोपियों के खिलाफ धारा 302, 342, 324, 34 आई.पी.सी. के तहत केस दर्ज किया है.

*थाना प्रभारी कंवलजीत सिंह बल्ल ने बताया कि मृतक गुरमुख सिंह की बेटी ने अपनी मर्जी के खिलाफ अपने ही एक करीबी रिश्तेदार से शादी कर ली थी और वे गांव सैफलाबाद में ही अपने पति के साथ किराए पर रह थे. जिसका विरोध मृतक के परिवार द्वारा किया जा रहा था, इसी कारण उसे रास्ते में घेर लिया गया और तेजधार हथियारों से हमला कर घायल कर दिया गया. जिस कारण गुरमुख सिंह घाव सहन नहीं कर सका और उसकी सिविल अस्पताल अमृतसर में मौत हो गई.

*पुलिस को दिए बयान में मनजीत सिंह पुत्र गुरमुख सिंह निवासी गांव सैफलाबाद ने बताया कि 10 अप्रैल की रात करीब 10 बजे वह और उसका पिता गुरमुख सिंह व मौसी का लड़का जतिंदर सिंह उर्फ पुत्र जगीर सिंह निवासी गांव वरिया मक्खू फिरोजपुर तीनों गांव उच्चा से अपने गांव सैफलाबाद अपने व्हीकलों पर जा रहे थे.

*जब वह अपनी बुआ के घर नजदीक पहुंचे तो घर के बाहर पहले से ही कारज सिंह, गुरप्रीत सिंह पुत्र सुखदेव सिंह, कुलदीप कौर पत्नी सुखदेव सिंह, सोनिया पुत्री सुखदेव सिंह सभी निवासी गांव सैफलाबाद खड़े थे. उन्होंने हमें रास्ते में घेर लिया और उसके पिता गुरमुख सिंह को खींच कर अपने घर के अंदर ले गए तथा उन्हें मारपीट कर घायल कर दिया. थाना फत्तूढींगा पुलिस ने मृतक के बेटे के बयानों के आधार पर 4 आरोपियों के खिलाफ धारा 302, 342, 324, 34 आई.पी.सी. के तहत केस दर्ज किया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »